Two Line Shayari : Hindi Short Shayari – Short Shayari In Hindi – 2 Line Shayari – Do Line Shayari

Two Line Shayari, 2 Line Shayari In Hindi, Short Shayari, Two Line Shayari In Hindi, 2 Line Shayari In Hindi, Short Shayari In Hindi, 2 Line Shayari

Two Line Shayari Image

Two Line Shayari Image

तेरी यादों की नौकरी में दीदार की पगार मिलती है,
खर्च हो जाते हैं अश्क नैनों के, रहमत कहाँ उधार मिलती है


इश्क करना है किसी से तो बेहद कीजिए…..
हदें और सरहदें तो ज़मीन की होती है दिलों की नहीं

बस आज इतने से अल्फ़ाज़ कहने हैं आप से,
ख़्याल रखा करो अपना अच्छे लगते हो तुम


हम कुछ ना कह सके उनसे, इतने जज्बातों के बाद..
हम अजनबी के अजनबी ही रहे इतनी मुलाकातो के बाद

Two Line Shayari

Two Line Shayari

कश्ती तेरा नसीब चमकदार कर दिया
इस पार के थपेड़ों ने उस पार कर दिया

Two Line Shayari : Hindi Short Shayari

खूब जमेगी जब होगी आपसे मुलाक़ात,
कुछ खर्च होंगी बाते कुछ लुटेंगे जज्बात


कुछ नजर नही आता तेरे तसव्वुर के सिवा,
हसरत ए दीदार ने आँखों को अंधा कर दिया है


आजमाना है अगर, मेरे एतबार को..,
तो एक झूठ तुम बोलो, फिर मेरा ‘यक़ीन’ देखो


शब्दों के इत्तेफाक़ में यूँ बदलाव करके देख
तू देख कर न “मुस्कुरा” बस “मुस्कुरा” के देख

मोहब्बत करो तो ऐसे करो कि..
दगा देकर भी, वो वापिस तेरा होने को तड़पे


गिरते हुऐ अश्क की कीमत न पूछना,
इश्क़ के हर बूंद में लाखों सवाल होते हैं


कोई जंजीर नहीं फिर भी कैद हूँ तुझ में,
नहीं मालुम था की तुझे ऐसा हुनर भी आता है


सैलाब बनके आँखों से ये निकले,
कंबख्त दर्द के लिए दिल छोटा पड गया


बेताब सा फिरता है कई रोज़ से दिल,
बेचारे ने फिर तुम को कहीं देख लिया है

Hindi Short Shayari

Hindi Short Shayari

अक्सर वहीं दिएे, हाथों को जला देतें हैं!
जिनको हम हवा से, बचा रहे होते हैं

चर्चे इश्क के नही इश्कबाजों के होते है,
इश्क तो आज भी खुदा की बंदगी है


प्यार की भी अलग ही प्रथा है,
पल भर में हो जाता है उम्र भर के लिए


मुझे आजमाने वाले शख्स तेरा शुक्रिया,
मेरी काबिलियत निखरी है तेरी हर आजमाइश के बाद


वक़्त जरूर लगा पर मैं संभल गया,
क्यों की.. मै ठोकरों से गिरा था किसी की नज़रों से नहीं


तन्हा होते है लेकिन बात बात पे रोते नहीं हैं…
आजकल लोग जैसे दिखते हैं वैसे होते नहीं हैं

Hindi Two Line Shayari

Hindi Two Line Shayari

हवाओं की भी अपनी अजब सियासतें हैं साहब*,
*कहीं बुझी राख भड़का दे तो कहीं जलते चिराग बुझा दे.

टपकती है निगाहों से बरसती है अदाओं से,
मोहब्बत कौन कहता है कि पहचानी नहीं जाती


आ जाइए के आप से पहले न आए मौत,
अब वक़्त रह गया है बहुत कम बहुत ही कम


ताउम्र इस जहां में कौन रहने आया है,
बंद मुठ्ठी लिए आता, बंद मुठ्ठी लिए छोड़ जाता है


दलीलों से दवा का काम लेना सख़्त मुश्किल है,
मगर इस ग़म की ख़ातिर ये हुनर भी सीखना होगा

ज़िंदगी जब जख्म पर दे जख्म तो हँसकर हमें,
आजमाइश की हदों को… आजमाना चाहिए


इश्क़ तू कब से इतना जालिम हो गया,
तूने आज हदें तोड़ दी दर्द देने की


हौसला देती रहीं… मुझको मेरी बैसाखियाँ,
सर उन्ही के दम पे सारी मंजिलें होती रहीं


अंधेरा वहां नहीं है, जहां तन गरीब है!
अंधेरा वहां है, जहां मन गरीब है


ना बुरा होगा, ना बढ़िया होगा!
होगा वैसा, जैसा नजरिया होगा!

Short Shayari In Hindi

Short Shayari In Hindi

नहीं भाता अब तेरे सिवा किसी और का चेहरा,
तुझे देखना और देखते रहना दस्तूर बन गया है

रहा यूँ ही नामुकम्मल ग़म-ए-इश्क का फसाना,
कभी मुझको नींद आई कभी सो गया ज़माना


अब हिचकियाँ आती हैं तो पानी पी लेते हैं……
ये वहम छोड़ दिया कि कोई याद करता है


ये अदाएं बहकी बहकी ये निगाहे शायराना…..
की जहां भी तुमने चाहा वहां रुक गया जमाना


तुझको पा कर भी न कम हो सकी बेताबी दिल की,
इतना आसान तेरे इश्क़ का ग़म था ही नहीं

ज़िंदा रहने की अब ये तरकीब निकाली है,
ज़िंदा होने की खबर सब से छुपा ली है


म्हारा नाम लेने से मुझे सब जान जाते है……
मैं वो खोया हुआ चीज हूँ,जिसका पता तुम हों.


आईना फैला रहा है खुदफरेबी का ये मर्ज,
हर किसी से कह रहा है आप सा कोई नहीं


नहीं भाता अब तेरे सिवा किसी और का चेहरा,
तुझे देखना और देखते रहना दस्तूर बन गया है


नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर,
कसूर तो उस चेहरे का है जो सोने नहीं देता

2 Line Shayari

2 Line Shayari

पढ़ लेते हो तुम मुझे हर बार,
वो दो नीली रेखाएँ गवाह है वाट्सएप की

ना जाने आखिर इन आँसूओ पे क्या गुजरी,
जो दिल से आँख तक आये मगर बह ना सके


जो मशहूर हुए सिर्फ उन्होंने ही तो मोहब्बत नहीं की
कुछ लोग चुपचाप भी तो क़त्ल हुए है मोहब्बत के हाथोँ


आ देख मेरी आँखों के ये भीगे हुए मौसम,
ये किसने कह दिया कि तुम्हें भूल गये हम


जो कदर नहीं करते उनके लिये लोग रोते हैं…
और जो हर किसी की कदर करते हैं लोग उन्हें अक्सर रुलाते हैं

ख्वाहिशें थीं चाँद तारे तोड़ लाने की मगर,
देख लो बिखरा पड़ा है वो जमीं पर टूट कर


इश्क़ में मेरा इस कदर टूटना तो लाजमी था,
काँच का दिल था और मोहब्बत पत्थर से की थी


जिस दिन इस “दिल” मे दर्द “बेहिसाब” होता है…!
शायरी” के लिए वो दिन “लाजवाब” होता है


सीख नहीं पा रहा हूँ मीठे झूठ बोलने का हुनर…*
*कड़वे सच ने हमसे न जाने कितने लोग छीन लिए


दिल की दहलीज पर रख कर तेरी यादों के चिराग
हमने दुनियां को मोहब्बत के उजाले बख्शे

Do Line Shayari Hindi

Do Line Shayari Hindi

इजहार-ए-मोहब्बत पे अजब हाल है उनका,
आँखें तो रज़ामंद हैं लब सोच रहे हैं


ना जाने इस ज़िद का नतीजा क्या होगा,
समझता दिल भी नहीं मैं भी नहीं और तुम भी नहीं


लम्हों की दौलत से दोनों ही महरूम रहे,
मुझे चुराना न आया, तुम्हें कमाना न आया


मेरे मिज़ाज काे समजने के लिए , बस इतना ही काफी है,
मै उसका हरगिज नही हाेता…जाे हर एक का हाे जाये


बार बार क्यो पूछती हो मुकाम अपना,
कह तो दिया तुम मेरी जिन्दगी हो पगली

कभी तुम पूछ लेना, कभी हम भी ज़िक्र कर लेगें,
छुपाकर दिल के दर्द को, एक दूसरे की फ़िक्र कर लेंगे


 हमसे भुलाया नही जाता एक शख्स का प्यार,

लोग जिगर वाले है जो रोज़ नया महबूब बना लेते है


मरना भी मुश्किल है जिस शख्श के वगैर,
उस शख्स ने ख्वाबों में भी आना छोड़ दिया​


हम तो बने ही थे तबाह होने के लिए,
तेरा छोड़ जाना तो महज़ बहाना बन गया


दिल में ना हो जुर्रत तो मोहब्बत नहीं मिलती
खैरात में इतनी बड़ी दौलत नहीं मिलती

Do Line Shayari In Hindi

Do Line Shayari In Hindi

गजब का प्यार था उसकी उदास आँखों में,
महसूस तक नहीं होने दिया कि वो छोड़ने वाला है

अब हम किसी से नाराज नही होते!!
बस उसकी अहमियत, जीवन से कम कर देते है


बंद कर दिए हैं हमने तो दरवाजे इश्क के,
पर कमबख़्त तेरी यादें तो दरारों से ही चली आई


अब समझ लेता हूँ मीठे लफ़्ज़ों की कड़वाहट,
हो गया है ज़िन्दगी का तजुर्बा थोड़ा थोड़ा


हर बात मानी है तेरी सिर झुका कर ऐ जिंदगी,
हिसाब बराबर कर तू भी तो कुछ शर्तें मान मेरी

1 line shayari

1 line shayari

जिस्म से साथ निभाने की मत उम्मीद रखो,
इस मुसाफ़िर को तो रस्ते में ठहर जाना है

तेरा मिलना ऐसे होता है जैसे,
कोई हथेली पर एक वक़्त की रोजी रख दे


मुखौटे बचपन में देखे थे, मेले में टंगे हुए…
समझ बढ़ी तो देखा लोगों पे चढ़े हुए.


आज़ाद कर दिया हे हमने भी उस पंछी को …,
जो हमारी दिल की कैद में रहने को तोहीन समजता था


घर से बाहर ना निकलना मेरी जाने जाना
मुझको डर है कहीं बारिश में पिघल जाओ ना


भरोसा तोड़ने वाले के लिए बस यही एक सज़ा काफ़ी है
उसको ज़िन्दगी भर के लिए ख़ामोशी तोहफ़ेे में दे दी जाए

Hindi 1 line shayari

Hindi 1 line shayari

मुझे परखने में उसने पूरी जिंदगी लगा दी,
काश, कुछ वक्त समझने में लगाया होता

कह दो ना इस दर्द को.. तुम्हारी तरह बन जाये,
ना मुझे याद करें.. और ना मेरे करीब आये


लगाई तो थी आग उसकी तस्वीर में रात को,
सुबह देखा तो मेरा दिल छालों से भरा पडा था


मैंने सीखा हैं इन पत्थर की मूर्तियों से,
भगवान बनने से पहले पत्थर बनना जरूरी है


दिखाई देते हैं धुँद में जैसे साए कोई,
मगर बुलाने से वक़्त लौटे न आए कोई

Two Line Shayari Hindi

Two Line Shayari Hindi

तुम कहो तो हम तुम्हारी जिंदगी से ऐसे निकल जाये,
जैसे किसी गहरी चोट के बाद आँख से आँसूं

भीड़ के ख़ौफ़ से फिर घर की तरफ़ लौट आया,
घर से जब शहर में तन्हाई के डर से निकला


अब आ गई है सहर अपना घर सम्भालने को,
चलूं कि जागा हुआ रातभर का.. मैं भी हूं


भरम अपना भी रहने दे भरम मेरा भी रहने दे,
सुना है.. पास आने से तसव्वुर टूट जाता है


हमसे रूठा भी गया हम मनाये भी गये,
फिर सब नक्श ताल्लुक के मिटाये भी गये

आप को शायरी अच्छी लगी तो शेयर करे

Sad Love Shayari